Corona Virus कोरोना वायरस का कहर बढता ही जा रहा है.

कोरोना वायरस के फैलते प्रसार से बचाव की कोशिश में यात्री

कोरोना वायरस का फैलता व्यापक कहर

चीन के वुहान शहर से शुरु होने वाले कोरोना वायरस का कहर दिन-ब दिन बढ रहा है । चीन के साथ ही विश्व के अन्य देशों के नागरिकों को अपनी गिरफ्त में लेने के साथ ही अकेले चीन में 4500 नागरिकों को चपेट में लेने वाले इस खतरनाक कोरोना वायरस से प्रभावित 106 व्यक्ति इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं ।

कोरोना वायरस से हमारे देश के लिये चुनौतियां-

हमारे लिये चिंता की बात ये भी है कि 2 व्यक्ति भारत में भी इसके शिकार होकर अपनी जान गंवा चुके हैं । हाल के दिनों में केरल से 650 के लगभग लोग चीन से वापस आये हैं और अभी भी चीन में 300 से भी अधिक फंसे हुए भारतीय नागरिकों व छात्रों की मौजूदगी में अकेले केरल के साथ ही त्रिपुरा, कोलकाता, तामिलनाडु, गुजरात व मध्यप्रदेश तक में राष्ट्रीय व अर्न्तराष्ट्रीय  हवाई यात्रा से आने वाले यात्रियों के माध्यम से देश भर में इसके फैलने का खतरा व्यापक रुप से बढता जा रहा है ।.

Click & Read Also-

वर्तमान समस्या : प्रदूषण व डेंगू 

विवेक… . (लघुकथा) 

जानिये क्या हैं कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों के लक्षण

कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित व्यक्ति को सामान्य बुखार, गले में खराश, खांसी, नाक का बहना, सांस लेने में दिक्कत व निमोनिया होेने के साथ ही किडनीफैल्युअर की अवस्था तक पहुंचते देखा जा रहा है, जिसमें इस बिंदु तक आते-आते मरीज की जान जोखम में आ रही है । सबसे पहले इस वायरस का प्रभाव अभी कुछ ही दिन पूर्व 31 दिसम्बर 2019 को सामने आया है और इसके बाद इसके प्रसार की भयावहता दिन दूनी रात चौगुनी रफ्तार से बढती दिखाई दे रही है ।

कैसे करें कोरोना वायरस के संक्रमण से अपना बचाव-

चूंकि अभी तक कोरोना वायरस से बचाव हेतु कोई सुरक्षित टीका उपलब्ध नहीं हो पाया है अतः सावधानी ही सतर्कता है के सिद्धांतानुसार आप जब भी बाहर से आएं तब अपने हाथों को कुनकुने गर्म पानी व साबुन से अच्छी तरह साफ करें । नाक, मुंह और आंखों जैसे सर्वाधिक संवेदनशील अंगों को बार-बार स्पर्श ना करें । संक्रमित लोगों से बचाव के लिये भीड-भाड वाले किसी भी स्थान जैसे बस स्टेंड, रेल्वे स्टेशन, टॉकीज, मॉल जैसे स्थानों पर अनावश्यक तौर पर ना जाएं, यदि संक्रमण होने जैसी शंका भी लगे तो अधिक से अधिक आराम करें, सुरक्षित पेय पदार्थों का अधिक सेवन करें व सांस लेने में यदि असुविधा लगे तो गर्म पानी की भाप लेते हुए अपने फेफडे व श्वांस नली के बचाव का प्रयास करें । 

Click & Read Also-

नया धंधा – नये शौक.

सामान्य शारीरिक समस्या के-तात्कालिक राहत उपचार 

ठंड भगाए, वजन घटाए व रोगों से बचाए – अदरक का काढा. 

अपने खान-पान में कोल्डड्रिंक्स, आईस्क्रीम, कुल्फी, डिब्बाबंद भोजन, सीलबंद दूध, 48 घंटे से पहले की बनी दूध की मिठाईयां, पुराने बर्फ का गोला व See Food के प्रयोग से बचें । 

कोरोना वायरस से बचाव के लिये WHO द्वारा निर्देशित इन उपायों के साथ ही छींकते व खांसते समय अपने मुंह व नाक पर रुमाल अथवा टीशू पेपर अवश्य रखें क्योंकि इस छींक व ऐसे माध्यम से भी ये वायरस फैल रहा है । सामान्य तौर पर यदि हम अपने देश में इसके व्यापक प्रसार को सुरक्षित तरीके से रोक भी सकें तब भी हमें कम से कम 90 दिनों तक इन सुरक्षात्मक उपायों को अपने व अपने प्रियजनों की हिफाजत हेतु अमल में लाना ही चाहिये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.