प्याज के उपयोग से वृद्धावस्था तक यौनक्षमता व बालों को स्वस्थ रखे…

प्याज के उपयोग से वृद्धावस्था तक यौनक्षमता व बालों को स्वस्थ रखे...
सदाबहार प्याज

            इसी ब्लॉग पर हमारे 14 जन. 2020 के लेख “प्याज के बेशकीमती गुणों को जानिये” को हमारे असंख्य पाठकों नें पर्याप्त स्नेह प्रदान किया । इसी श्रृंखला में अब हम आपके समक्ष कुछ और विशिष्ट प्रकार के प्याज के उपयोग यहाँ प्रस्तुत कर रहे हैं । निश्चय ही यह बहुसंख्यक व्यक्तियों द्वारा आजमाये जा चुके होने के कारण आपके लिये भी पर्याप्त उपयोगी साबित हो सकेंगे ।

           इस लेखमाला में हम आपको बता रहे हैं कि इसके द्वारा लम्बे समय तक यौनक्षमता व बालों की ग्रोथ व मजबूती आप कैसे बढा सकते हैं –

Click & Read Also-

आदत सुधारें – जीवन सुधरेगा…

कच्ची उम्र के ये शरीर सम्बन्ध…!

 

प्याज के उपयोग से यौनक्षमता…

प्याज के उपयोग से वृद्धावस्था तक यौनक्षमता व बालों को स्वस्थ रखे...
बढती ऊम्र में भी यौनक्षमता

           यदि आप प्रतिदिन 500 ग्राम से 1 कि. के बीच किसी भी तरह से कच्चा प्याज खाना प्रारम्भ कर सकें तो आपकी यौनक्षमता में चमत्कारिक वृद्धि स्वयं महसूस कर सकेंगे । यदि यहाँ सफेद प्याज मिल सके तो इसे सोने पे सुहागा समझिये । प्रमाणित तौर पर 65-75 वर्ष के ऊपर की उम्र में भी शादी करके प्रजनन क्षमता को इस माध्यम से बढाए जाने के कई उदाहरण मौजूद मिल जाएँगे । यद्यपि 1 कि. तक कच्चा प्याज खाना सामान्यतः आसान नहीं लगता किंतु यदि 200 ग्राम प्रतिदिन से शुरुआत करके 100-100 ग्राम की मात्रा बढाते हुए कोई भी इस प्रयोग को प्रारम्भ करे तो वह इस लक्ष्य तक पहुंच कर आसानी से अपनी इस क्षमता को लम्बी उम्र तक बरकरार रख सकता है ।

प्याज के उपयोग से बालों की देखभाल…

प्याज के उपयोग से वृद्धावस्था तक यौनक्षमता व बालों को स्वस्थ रखे...
बालों की सार-संभाल

           2 मध्यम आकार के जूने व सूखे प्याज लें व इन्हें छिलकर व काटकर मिक्सर में बिना पानी मिलाएँ ग्राईंड करलें । तरलता के लिये 2-3 चम्मच सरसों का तेल डाल दें । पश्चात् 20 गुली लहसुन व 30-40 ग्राम कडीपत्ता (मीठा नीम) डालकर सबका मिक्स पेस्ट तैयार करलें ।

            अब 200 ग्राम सरसों का तेल, 100 ग्राम नारियल का तेल व 25 ग्राम अरंडी का तेल आपस में मिक्स कर प्याज, लहसुन व मीठे नीम का पेस्ट लोहे की या भारी तले की कडाही में डालकर इस तेल के मिश्रण को भी इसमें डाल दें । कडाही गर्म होने तक तेज आंच रखें व 4-5 मिनिट में आंच बिल्कुल धीमी करदें (वर्ना तेल काला हो सकता है) अब इस तेल व मिश्रण को बिल्कुल धीमी आंच पर लगभग 20-25 मिनिट तक मिश्रण के सुनहरा होने तक पकने दें तत्पश्चात आंच बंद करके इसे ठंडा होने दें व ठंडा हो जाने पर किसी पतले साफ व सूती कपडे से अच्छे से छान व निचोड कर तेल अलग कर लें व शेष मिश्रण को निकाल दें । इस छने हुए तेल में लगभग 3 केप्सूल विटामिन ई के केमिस्ट से खरीदकर हल्का सा कट लगाकर निचोड कर मिला दें ।

Click & Read Also-

सुखी जीवन के सरल सूत्र

प्रदूषण से त्वचा की सुरक्षा व सौंदर्यरक्षा…

मानसिक शांति के लिये आवश्यक काम की 10 बातें…

            इस तैयार तेल को अब रात में सोते समय जितना आवश्यक लगे कटोरी में निकालकर कटोरी को गर्म पानी में रखकर रात में सिर के बाल सहित स्केल्प त्वचा में रम जावे ऐसे लगा लें व सुबह नहाते समय सिर साफ करके आपका रेग्यूलर खोपरे का तेल सीमित मात्रा में लगाकर अपनी दिनचर्या चलने दें । यदि आप एक दिन छोडकर एक दिन भी रात्रि में बताये अनुसार तेल का उपयोग करेंगे तो आपके बालों की सारी कमजोरी, रुसी, बालों का झडना ऐसी सभी समस्याएँ खत्म होकर आपके बालों में चमक, घनापन व मजबूती आप हमेशा बनाये रख सकेंगे ।

           यह तेल महिनों खराब नहीं होगा और आपके साथ ही आपके प्रिय परिजनों के बालों को भी सदैव स्वस्थ व मजबूत बनाये रख सकेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.